कोई बेचा करते थे गोलगप्पे तो कोई घूम-घूम कर खेला करते थे क्रिकेट, अब हैं करोड़ों का मालिक

आप जानते हैं अधिकतर क्रिकेटर अमीर घरानों से तालुक रखता हैं। लेकिन आज मैं इस आर्टिकल के माध्यम से आपको भारतीय क्रिकेट टीम और कुछ ऐसे खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे जो बेहद गरीब परिवार से तालुक रखते हैं। परन्तु इन खिलाड़ियों ने अपनी लगन और मेहनत से आज वह सब कुछ हासिल कर लिया है जो एक अमीर इंसान के पास होता है। इन खिलाडियों में कुछ ऐसे भी थे जिन्होंने गोलगप्पे बेचे तो वहीं कुछ बेरोजगार थे।

कोहली और पांड्या


1. हार्दिक पांड्या : 

भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार ऑलराउंडर खिलाड़ी हार्दिक पांड्या को आज कौन नहीं जानता है। हार्दिक पांड्या का नाम अमिर क्रिकेटरों की सूची में शामिल है। हार्दिक पांड्या क्रिकेटर बनने से पहले पूरी तरह से बेरोजगार थे और यह एक गांव से दूसरे गांव जाकर क्रिकेट खेला करते थे। आज के दिनों में हार्दिक पांड्या भारतीय टीम के रीड की हड्डी है। इन्होने कई बार बार हारे हुए मैच को अकेले अपने दम पर भारत को जीत दिलाया हैं।


2. यशस्वी जयसवाल : 


यशस्वी जयसवाल को आईपीएल 2020 में खेलने के लिए राजस्थान रॉयल्स ने 2 करोड़ 40 लाख रुपए की भारी रकम के साथ टीम में शामिल किया है। यशस्वी जयसवाल की बेस प्राइस केवल 20 लाख थी लेकिन टीम ने इनको भारी रकम के साथ अपने साथ शामिल किया। यशस्वी जयसवाल दो साल पहले गोलगप्पे बेचकर किसी तरह से खर्च चलाते थे। लेकिन आज उसके पास करोडो की सम्पति हैं। जयसवाल अपने प्रदर्शन के दम पर बहुत जल्दी ही अंतरराष्टीय टीम में जगह बना सकते हैं।

3. उमेश यादव : 

उमेश यादव के पिताजी कोयले की खदान में काम करते थे और उमेश यादव पुलिस में भर्ती की तैयारी कर रहे थे लेकिन कुछ कारणवश उमेश यादव पुलिस में भर्ती नहीं हो पाए थे। फिर उन्होंने क्रिकेट खेलना सुरु कर दिया। आज  उमेश यादव भारतीय क्रिकेट टीम के बेहतरीन गेंदबाज हैं। इन्होने कई बार बेहतरीन प्रदर्शन कर के भारत को जीत दिलाया हैं।